सोनी सब के ‘दिल दियां गल्‍लां’ में मनदीप 25 साल बाद दिलप्रीत के घर रहने गया

0 minutes, 1 second Read
Spread the love

दक्ष दर्पण समाचार सेवा dakshdarpan2022@gmail.com

सोनी सब के शो ‘दिल दियां गल्‍लां’ में दिखाया गया है कि बरार परिवार की तीन पीढ़ियों के बीच बातचीत की कमी ने कैसे दूरियाँ पैदा की हैं। गलत बयां हुईं स्थितियों, आहत भावनाओं और अपने-अपने मतों के कारण टूटे इस परिवार की कहानी दर्शकों को अपने जैसी लगती है। आने वाले एपिसोड्स में हम देखेंगे कि पिता और बेटे की जोड़ी, यानि कि दिलप्रीत (पंकज बेरी) और मनदीप (संदीप बसवाना) एक-दूसरे की मौजूदगी में दूरियों का सामना कैसे करेंगे।

मनदीप ने दिलप्रीत का घर खरीद लिया है और उनके बीच हालात ज्‍यादा खराब हो गये हैं। दिलप्रीत बहुत गुस्‍सा और नाराज है कि उसे अब मनदीप जैसे बेटे के साथ रहना होगा, जिसने 25 साल पहले उसे छोड़ दिया था। जो घर दिलप्रीत के दिल के सबसे करीब था, उसे मनदीप द्वारा खरीदा जाना उसे सबसे ज्‍यादा गुस्‍सा दिलाने वाली बात थी। वह घर को अपने सामान समेत छोड़ने का फैसला करता है, क्‍योंकि वह एक बार अपने से दूर हो चुके बेटे के साथ किसी भी हालत में एक ही घर में नहीं रह सकता।

अब बरार परिवार का क्‍या होगा? क्‍या दिलप्रीत घर छोड़ देगा या मनदीप कोई रास्‍ता निकालेगा?

मनदीप की भूमिका निभा रहे संदीप बसवाना ने कहा, “मनदीप को अब लगने लगा है कि जिन्‍दगी में छोटी-छोटी गलतफहमियों को भी अगर नजरअंदाज किया जाए, तो हालात कितने खराब हो सकते हैं। तो इस बार वह पूरा ध्‍यान दे रहा है और तय कर रहा है कि दिलप्रीत उससे बात करे और पुराने मनमुटाव सुलझ सकें। दिलप्रीत और मनदीप को इस चुनौती से रास्‍ता निकालते देखना दिलचस्‍प होगा। क्‍या दिलप्रीत घर छोड़ देगा या एक नया दिन उनकी जिन्‍दगी में नई रोशनी लेकर आएगा?”

देखते रहिये ‘दिल दियां गल्‍लां’, हर सोमवार से शनिवार शाम 7:30 बजे, सिर्फ सोनी सब पर

Similar Posts

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी देश के युवाओं को पढ़ाई के साथ-साथ खेलों में रुचि बढ़ाने के लिए कार्य कर रहे हैं–पूर्व केंद्रीय राज्य मंत्री व अंबाला लोकसभा क्षेत्र से सांसद  रतन लाल कटारिया

बड़े दिलवाली, किन्नर अखाड़े की महामंडलेश्वर … महंत बुलबुल ने लगवाया वाटर कूलर   ।                                                                संत महात्मा, अखाड़े  और किन्नर समाज की परंपरा को बढ़ाया आगे ।                                                                                                                     फरुखनगर क्षेत्र में विभिन्न स्थानों पर 11 वाटर कूलर लगाने का वादा   ।                                                                                       साधु सन्यासी तपस्या – साधना कर वेदोक्त ज्ञान समाज को देते  ।             

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *