गूगल से छात्रों को आंकड़ें मिल सकते हैं, पर निर्णय खुद ही लेना पड़ता है’; बोले PM मोदी

0 minutes, 0 seconds Read
Spread the love

शगुप्ता परवीन

दक्ष दर्पण समाचार सेवा dakshdarpan2022@gmail.com देहरादून प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी शुक्रवार को गांधीनगर में अखिल भारतीय शिक्षा संघ के अधिवेशन में पहुंचे। इस मौके पर पीएम मोदी ने कहा कि जब भारत विकसित होने के संकल्प के साथ आगे बढ़ रहा है ऐसे में शिक्षकों की भूमिका और बढ़ जाती है। एक जमाने में गुजरात में ड्रॉप आउट रेट 40 फीसदी के आसपास रहता था लेकिन आज यह सिर्फ 3 फीसदी रह गया है। यह गुजरात के शिक्षकों के सहयोग से ही हो पाया है।

उन्होंने आगे कहा कि आज शिक्षकों के सामने संसाधनों की चुनौती दूर हो रही है, लेकिन आज की पीढ़ी के छात्रों की जिज्ञासा शिक्षकों के लिए चुनौती बन गई है। ये छात्र आत्मविश्वास से भरे हैं, ये निडर हैं। उनकी जिज्ञासा शिक्षकों को चुनौती देती है। पीएम ने कहा कि गूगल से छात्रों को आंकड़ें मिल सकते हैं लेकिन निर्णय तो खुद ही लेना पड़ता है। एक गुरु ही छात्र को सीखा सकता है कि वे अपनी जानकारियों का सही उपयोग कैसे करें। तकनीक से जानकारी मिल सकती है लेकिन सही दृष्टिकोण शिक्षक ही दे सकता है।

Similar Posts

ग्राम पंचायतों व नगर निकायों में खेल के सामान के लिए आवेदन आमंत्रित                                                                                                            खेलों का सामान ग्राम पंचायत व नगर निकायों को निःशुल्क उपलब्ध कराया जाएगा   ।                                                                  

मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने दिल्ली में नेशनल वॉर मेमोरियल पर शहीदों को दी श्रद्धांजलि।हमारे देश के शहीदों और रणबांकुरों की शहादत को मेरा नमन- मुख्यमंत्री।देश के लिए महान सपूत पैदा करने वाली मां और परिवारों को भी वंदन।देश की जनता से अपील, नेशनल वॉर मेमोरियल आए और शहीदों की शहादत से लें प्रेरणा

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *