पीजीआईएमईआर ने ‘यूथ पार्लियामेंट ऑन मिलेट्स 2023’ का सफल आयोजन किया

0 minutes, 1 second Read
Spread the love

दक्ष दर्पण समाचार सेवा dakshdarpan2022@gmail.com

चंडीगढ़, 29 अप्रैल, 2023: कम्युनिटी मेडिसिन एंड स्कूल ऑफ पब्लिक हेल्थ, पीजीआईएमईआर, चंडीगढ़ और समाज कल्याण विभाग, महिला एवं बाल विकास, चंडीगढ़, प्रशासन ने संयुक्त रूप से आज एडवांस्ड कार्डियक सेंटर, पीजीआईएमईआर में ‘यूथ पार्लियामेंट ऑन मिलेट्स 2023’ का सफल आयोजन किया। यह कार्यक्रम हाल ही में लॉन्च किए गए ‘चंडीगढ़ मिलेट मिशन’ के तहत आयोजित किया गया था।

उद्घाटन सत्र के दौरान डॉ. पूनम खन्ना (एसोसिएट प्रोफेसर ऑफ न्यूट्रिशन, डीसीएम एंड एसपीएच, पीजीआईएमईआर) ने मिलेट्स (मोटे अनाजों) पर मौजूदा नीतियों के बारे में जानकारी दी और बताया कि नई और मौजूदा नीतियों में मिलेट्स को शामिल करने की आवश्यकता क्यों है। श्री सवितेश कुशवाहा, पीएच.डी. रिसर्च स्कॉलर, ने नीति निर्माण में युवाओं की रुचि को प्रोत्साहित करने में युवा संसदों की विस्तृत भूमिका पर विस्तार से बात की। मुख्य अतिथि प्रो.अरुण कुमार अग्रवाल, प्रोफेसर और प्रमुख, डीसीएम और एसपीएच, पीजीआईएमईआर ने इस तरह के एक कार्यक्रम के सफल आयोजन के लिए टीम के प्रयास की प्रशंसा की और उन्होंने जोर देकर कहा कि इस तरह के आयोजन अन्य सार्वजनिक स्वास्थ्य विषयों पर भी आयोजित किए जाने चाहिए।

सिटीजन अवेयरनेस ग्रुप के चेयरमैन सुरिंदर वर्मा ने इस आयोजन को जागरूकता और ज्ञान से भरपूर बताते हुए आज के समय की आवश्यकता को दैनिक आहार में मिलेट्स को शामिल करने की आवश्यकता बताया, जिसे प्राथमिकता के तौर पर किया जाना चाहिए।

डॉ. रचना श्रीवास्तव (प्रोग्राम ऑफिसर, डीसीएम और एसपीएच, पीजीआईएमईआर) ने संक्षेप में बताया कि स्टूडेंट्स को मिलेट्स अपनाने के लिए प्रेरित करने के लिए प्रारंभिक वर्कशॉप्स आयोजित की गई हैं। इसके साथ ही स्टूडेंट्स को इस संबंध में प्रस्ताव का मसौदा तैयार करने में सहायता करने के लिए विषय विशेषज्ञों के साथ गूगल मीट सेशन आयोजित किए गए। सेलिब्रिटी शेफ विकास चावला, संस्थापक-कोर हॉस्पिटैलिटी ने दैनिक आहार में मिलेट्स को शामिल करने के बारे में बात की। उन्होंने कहा कि वे मिलेट्स पर एक रेसिपी बुक भी लेकर आ रहे हैं जिसमें ऐसी रैसिपीज बताई जाएंगी, जिनके आधार पर मिलेट्स को सभी आसानी से उपयोग कर सकते हैं।

श्री उत्तम (जनरल मैनेजर, वेरका) ने कहा कि मिलेट्स हमारे पारंपरिक आहार का एक महत्वपूर्ण हिस्सा रहे हैं। पार्लियामेंट सेशन की अध्यक्षता डॉ.पुनीत खंडूजा (सीनियर लीड न्यूट्रिशन) ने की, जिन्होंने उपस्थित लोगों को मिलेट्स का उपयोग बढ़ाने की प्रतिज्ञा के साथ सेशन की शुरुआत की। विभिन्न मंत्रालयों का प्रतिनिधित्व करने वाले विभिन्न कॉलेजों के छात्रों ने सदन में अपने मसौदा विधेयक प्रस्तुत किए और विपक्ष (स्टूडेंट्स) ने विधेयकों से जुड़े प्रावधान और संचालन के संबंध में प्रश्न पूछे। संसद सत्र के अंत में सिफारिशें आयोजन अध्यक्ष को प्रस्तुत की गईं।

श्रीमती सरिता गोडवानी, सलाहकार पोषण अभियान, समाज कल्याण विभाग, महिला एवं बाल विकास, चंडीगढ़ प्रशासन द्वारा धन्यवाद प्रस्ताव दिया गया। इस कार्यक्रम को मंच ऑन, जॉयलाइन हाइजीन, द स्माइल डिजाइनर्स, कोर हॉस्पिटैलिटी सॉल्यूशंस और वेरका द्वारा प्रायोजित किया गया था।

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *