पंजाब के पूर्व मुख्यमंत्री प्रकाश सिंह बादल का निधन। ओमप्रकाश चौटाला से 10 साल बड़े तो स्वर्गीय चौधरी देवीलाल से 10 साल छोटे थे प्रकाश सिंह बादल।

0 minutes, 0 seconds Read
Spread the love


धर्मपाल वर्मा
दक्ष दर्पण समाचार सेवा
चंडीगढ़।

पंजाब के पूर्व मुख्यमंत्री प्रकाश सिंह बादल का मंगलवार रात करीब 8:28 मिनट बजे निधन हो गया. वह 95 वर्ष के थे. जानकारी के मुताबिक उन्होंने मोहाली के फोर्टिस हॉस्पिटल में अंतिम सांस ली बादल के पार्थिव शरीर को आज बुधवार सुबह मोहाली से उनके पैतृक गांव बादल जिला बठिंडा तक सड़क मार्ग से ले जाया जा रहा है। उनका अंतिम संस्कार बादल गांव में ही किया जाना है।
सरदार प्रकाश सिंह बादल देश के सबसे युवा मुख्यमंत्री रहे उन्होंने अपना राजनीतिक जीवन एक सरपंच के रूप में चुनाव लड़के 1947 में शुरू किया फिर 1957 में विधानसभा का चुनाव लड़ा परंतु 1969 में विधायक बने ।1970 में पहली बार मुख्यमंत्री बने और पांच बार मुख्यमंत्री बनने का अवसर मिला ।वह सांसद भी चुने गए और केंद्र में मंत्री भी रहे। उनका जन्म 1927 में पंजाब के छोटे से गांव में हुआ ।

सरदार प्रकाश सिंह बादल का हरियाणा में स्वर्गीय चौधरी देवीलाल के परिवार से कदीमी भाईचारा किसी से छिपा हुआ नहीं है। श्री बादल हरियाणा के पूर्व मुख्यमंत्री चौधरी ओम प्रकाश चौटाला से उम्र में 10 साल बड़े थे जबकि स्वर्गीय चौधरी देवीलाल से 10 साल छोटे थे। सादगी के प्रतीक सरदार प्रकाश सिंह बादल लोगों के बीच की राजनीति के पक्षधर थे और इस समय देश में सबसे ज्यादा उम्र दराज और लोकप्रिय नेताओं में गिने जाते थे ।उन्होंने 2022 में अपना अंतिम चुनाव लड़ा परंतु हार गए । विधानसभा चुनाव मैं यह उनकी पहली हार थी।
पंजाब के पूर्व उप मुख्यमंत्री सुखबीर सिंह बादल उनके पुत्र हैं और उनके राजनीतिक बारिश भी। का सिंह बादल के निधन पर देश के चोटी के नेताओं ने केंद्रीय मंत्रियों पंजाब सरकार के कई मंत्रियों ने शोक व्यक्त किया है और उन्हें सदी का महान नेता बताया है।

सरदार प्रकाश सिंह बादल 1927 2023

Similar Posts

हिन्दू एवं मुसलमान शब्द केवल धार्मिक विभेद को व्यक्त करते हैं, परन्तु दोनों एक ही राष्ट्र हिन्दुस्तान के निवासी हैं : सुनीता वर्मा भारत को आजादी दिलाने, इसे सुरक्षित रखने और इसको सक्षम बनाने में मुस्लिमों का बहुत योगदान है।गुलाम भारत में अंग्रेजों के दोस्त रहे आरएसएस जैसे संगठन आज मुस्लिमों की कुर्बानियों को भुला देना चाहती है

अम्बाला को जल्द मिलेगी उड़ान, सिविल एन्कलेव की भूमि के लिए 133 करोड़ रुपए डिफेंस इस्टेट आफिसर के एकाउंट में ट्रांसफर हुए – गृह मंत्री अनिल विज।अम्बाला एयरफोर्स स्टेशन के साथ बनने वाले सिविल एल्कलेव की 20 एकड़ भूमि के लिए राज्य सरकार ने स्थानातंरित की राशि – अनिल विज।16 करोड़ रुपए की लागत से एयरपोर्ट टर्मिनल का ढांचा होगा तैयार, अम्बाला एयरफोर्स स्टेशन से जल्द प्रारंभ होगी उड़ान – विज

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *