सहकारी बैंक आपके द्वार का 50वें कार्यक्रम के तहत सिलोठी पहुंचीं नीलम अहलावत। समाज को आर्थिक रुप से आत्मनिर्भर बनाने में सहकारिता एकमात्र विकल्प – नीलम अहलावत

0 minutes, 2 seconds Read
Spread the love


डीपी वर्मा

दक्ष दर्पण समाचार सेवा dakshdarpan2022@gmail.com
08 अप्रैल, बहादुरगढ़। किसी भी समाज एवं देश यहां तक कि व्यक्ति विकास में भी महिलाओं कि अहम भूमिका एवं सहयोग होता है। व्यक्ति की उत्पत्ति भी बिना महिला के असम्भव है। सहयोग,सहकर्म एवं सहअस्तित्व का प्रथम पाठशाला परिवार है। परिवार का मेरुदंड महिलाएं हैं जो सहकारिता पर टिकी हुई हैं अतरू जब तक महिलाओं का सक्रिय सहयोग प्राप्त नहीं होगा, सहकारिता आन्दोलन की सफलता दिवा-स्वप्न ही बना रहेगी। सहकारिता आन्दोलन में महिलाओं का सक्रिय सहयोग से न सिर्फ समाज एवं देश का ही विकास होगा बल्कि महिला समाज का सर्वागीण उत्थान के साथ-साथ सहकारिता आन्दोलन को भी शक्ति, गति एवं दिशा प्रदान की जा सकती है ये बातें दी झज्जर केन्द्रीय सहकारी बैंक लि0 की चेयरपर्सन एवं जिला केन्द्रीय सहकारी बैंक चेयरमैन एसोशिएशन हरियाणा की प्रधान नीलम अहलावत नें कहीं। नीलम अहलावत क्षेत्र के गांव सिलोठी में सहकारी बैंक आपके द्वार के 50वें कार्यक्रम में सम्बोधित कर रहीं थीं। सहकारी बैंक आपके द्वार का 50वां कार्यक्रम सिलोठी मकी चौपाल में आयोजित किया गया। जिसमें महिलाओं द्वारा नीलम अहलावत का पुष्प माला पहनाकर स्वागत किया गया।
नीलम अहलावत नें अहलावत नें अपना वक्तव्य रखते हुए कहा कि भारतीय समाज में महिलाओं की सूझबूझ, कर्तव्य परायणता, ईमानदारी, त्याग, बलिदान, बहादुरी, प्रशासनिक क्षमता, संगठनात्मक क्षमता, परिश्रम करने कि क्षमता हर क्षेत्र में प्रमाणित हो चुकी है। बेरोजगारी एवं गरीबी दूर करने हेतु तथा समाज को आर्थिक रूप से आत्मनिर्भर बनाने हेतु सहकारिता के समान कोई दूसरा विकल्प नहीं हो सकता। देश एवं समाज तथा महिलाओं की आर्थिक सामाजिक स्थिति के उत्थान हेतु सहकारिता आन्दोलन में महिलाओं की सक्रिय भागीदारी सुनिश्चित करना आवश्यक है। पुरुषों के साथ महिलाओं को भी जीवन के हर क्षेत्र में समानता का अधिकार देना समय की पुकार है। किसी भी देश का विकास सिर्फ पुरुषों के सहयोग से ही होना सम्भव नहीं है। पुरुषों के साथ-साथ महिलाओं का सहयोग आवश्यक ही नहीं बल्कि अनिवार्य है, अन्यथा विकास अधूरा ही होगा। आज दुनिया के जितने भी विकसित देश जैसे जापान, जर्मनी, अमेरिका, इंगलैंड, डेनमार्क आदि हैं, वहाँ के सामाजिक एवं आर्थिक विकास में महिलओं का महत्वपूर्ण योगदान रहा है। वहां के सहकारी आन्दोलन में महिलाओं की सक्रियता से सिर्फ देश एवं समाज का ही नहीं बल्कि वहाँ की महिलाएँ भी आत्मनिर्भर होती जा रही हैं। दी झज्जर केन्द्रीय सहकारी बैंक लि0 के द्वारा नाबार्ड के सौजन्य से महिलाओं को संयुक्त देयता समूह (ज्वांईट लाईविलिटी ग्रुप) की संरचना कर उन्हें पचास हजार तक की धनराशि उन्हें काम शुरु करने के लिए दी जाएगी।
इस अवसर पर सरपंच विक्रम सिंह, चन्द्र प्रकाश, सचिन, दीपक प्रवीण, गौरव, राहुल, रणबीर, रणधीर, सागर, रवि, सरोज, सुदेश देवी, सन्तोष, प्रवीण देवी, नीतू, राजबाला, सविता, सीमा, नीलम, बीरमती, दर्शना, बबीता, सुशीला एवं कृष्णा देवी सहित अन्य गणमान्य व्यक्तियों ने हिस्सा लिया।

गांव में महिलाओं ने बढ़-चढ़कर किया नीलम अहलावत का स्वागत।

सिलोठी में सभा को संबोधित करती नीलम अहलावत।

Similar Posts

भाजपा राज में हरियाणा विकास में 19वें और बेरोजगारी में नंबर 1 पायदान पर : कैप्टन अजय ।अग्निपथ योजना से अहीरवाल के नौजवानों का फौज में भर्ती होने का सपना चकनाचूर ।      3 लाख सरकारी पद खाली, पक्की भंर्तियो की बजाय भर्ती घोटाले हो रहे ।           महंगाई के सारे रिकार्ड टूट गये और प्रदेश में भ्रष्टाचार चरम पर   ।     

गृह मंत्री अनिल विज ने पांच करोड़ मूल्य की हेरोइन पकड़ने वाले अम्बाला कैंट थाने के एसएचओ इंस्पेक्टर नरेश कुमार को “होम मिनिस्टर मेडल” से अलंकृत करने की घोषणा की।इंस्पेक्टर नरेश कुमार को मेडल के साथ-साथ एक लाख रुपए पुरस्कार और छह माह सेवा विस्तार भी मिलेगा’ – अनिल विज । नरेश कुमार ने एक किलो हैरोइन के साथ पकड़ा था नशा तस्कर

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *