सोशल मीडिया पर महिलाओं से दोस्ती कर धोखाधड़ी से रुपए ठगने वाले नाइजीरिया सहित  04 गिरफ्तार। आरोपी के कब्जा से 25 मोबाइल, 65 डेबिट कार्ड्स, 34 चेक बुक्स, 12 पासबुक्स व नगदी बरामद   ।                                                               आरोपियों के द्वारा महिला सेकुलर 16 लाख रुपए की ठगी की गई।

0 minutes, 0 seconds Read
Spread the love

फतह सिंह उजाला 

दक्ष दर्पण समाचार सेवा

 गुरुग्राम

22 मार्च 2023 को एक महिला ने पुलिस थाना साईबर अपराध पूर्व, गुरुग्राम में शिकायत दी कि जनवरी 2023 में इसके पास एक इंस्टाग्राम आईडी से फ्रेंड रिक्वेस्ट आई जिसमें उस व्यक्ति ने अपना परिचय यू.के. में डॉक्टर के रूप में दिया। इनकी आपस मे बात होने लगी तो एक दिन उस व्यक्ति ने कहा कि उसने इसके लिए गोल्ड और 20000 पाउंड भेजे हैं। दिनांक 30 जनवरी 2023 को इसके पास एक लड़की का फोन आया जिसने अपने आपको कोरियर कंपनी से बताया और कहा कि इसके नाम का गोल्ड और विदेशी मुद्रा आई हुई है, जिसको लेने के लिए इसको 55000 टैक्स देना होगा, उसके कहने अनुसार इसने रुपए ट्रांसफर करा दिए। इसके बाद टैक्स के नाम पर 327920 ट्रांसफर करवा लिए तथा इसको झूठे केस में फंसाने की धमकी देकर इससे कुल 1600000 ठग लिए।  इस शिकायत पर थाना साईबर अपराध पूर्व , गुरुग्राम में आईपीसी की धारा 419, 420 120B के तहत अभियोग अंकित किया गया। 

थाना साईबर अपराध पूर्व , गुरुग्राम की टीम ने उपरोक्त अभियोग की वारदात को अंजाम देने में शामिल एक नाइजीरिया सहित कुल 04 आरोपियों को गिरफ्तार किया है जिनकी पहचान चिबुके (नाइजीरियन), अमन, राहुल और संतोष कुमार के रूप में हुई। पुलिस टीम द्वारा  03.04.2023 को आरोपी अमन, राहुल व संतोष कुमार को मंडावली क्षेत्र दिल्ली से तथा नाइजीरियन को दिनांक 05.04.2023 को दिल्ली से गिरफ्तार किया गया। 

आरोपियों से पूछताछ में ज्ञात हुआ  कि उपरोक्त नाइजीरियन आरोपी को आठ साल पहले मुंबई से डिपोर्ट किया गया था, जो अब फिर से सेनेगल पासपोर्ट/वीजा पर वापिस भारत आया था और यह लगातार उपरोक्त वारदातों को अंजाम देने में सक्रिय था। आरोपियों ने पुलिस पूछताछ में यह भी खुलाशा किया कि ये लोग लड़कियों से सोशल मीडिया पर बातचीत करके उनको अपने विश्वास में लेकर पार्सल या गिफ्ट भेजने के नाम पर उनसे ठगी करते है। ये एक गिरोह के रूप में कार्य करते है, ये उक्त प्रकार से धोखाधड़ी करके उपरोक्त आरोपी राहुल के बैंक खाता में रुपए ट्रांसफर करवाते थे तथा आरोपी अमन उक्त बैंक खाता से रुपए निकलवाकर आरोपी संतोष कुमार उपरोक्त को दे देता था और संतोष इन ठगी के रुपयों को नाइजीरियन मूल के आरोपी चिबुके उपरोक्त तक पहुँचा देता था।

पुलिस टीम द्वारा उपरोक्त आरोपियों के कब्जा से 25 मोबाइल फोन्स, 65 डेबिट कार्ड्स, 34 चेक बुक्स, 12 पासबुक्स व नगदी बरामद की गई है। आगामी कार्यवाही के लिए पुलिस टीम द्वारा आरोपियों को माननीय अदालत मे पेश किया जाएगा। इससे पहले भी दिनांक 03 अप्रैल 2023 को शादी ऐप को माध्यम बनाकर महिलाओं को अपने विश्वास/झांसे में लेकर उनसे रुपए ठगी करने के मामले में एक नाइजीरिया मूल के आरोपी को थाना साईबर अपराध दक्षिण, गुरुग्राम की पुलिस टीम द्वारा गिरफ्तार करके जेल भेजा था।

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *