स्व घोषित वेब चैनल के नुमाइंदों द्वारा की जा रही ब्लैकमेलिंग के खिलाफ पीड़ित ने खोला मोर्चा।एस एस पी को शिकायत दे आरोपी के खिलाफ सख्त कार्रवाई की मांग की।

0 minutes, 2 seconds Read
Spread the love

युद्धवीर

दक्ष दर्पण समाचार सेवा

चंडीगढ़:-समाज मे मौजूदा समय मे मीडिया में सोशल मीडिया का बोल बाला बढ़ा है। कुछ असभ्य और असामाजिक तत्वों द्वारा भी वेब पोर्टल और वेब चैनल बना लिए गए हैं। कुछ स्व-घोषित वेब चैनलों के नुमाइंदे मीडिया की धमकी देते हुए बिज़नेस हाऊसिस को डराते और धमकाते है और उन्हें ब्लैकमेल कर लाखों रुपए वसूल रहे है। ऐसे स्व-घोषित वेब चैनलों द्वारा की जा रहीअवैध वसूली, मनमानी और भ्रष्ट प्रथाओं की चंडीगढ़ स्थित अग्रणी लॉ फर्म- जस्ट लॉ कंसल्टेंट्स चंडीगढ़, कड़ी निंदा करता हैं। यह बात शुक्रवार को चंडीगढ़ में ऐसे ही एक स्व घोषित वेब चैनल के पत्रकार द्वारा की जा रही ब्लैकमेलिंग के खिलाफ जस्ट लॉ के संचालक एडवोकेट आर के सामयाल ने कही।

एडवोकेट आर के सामयाल ने बताया कि जीरकपुर के निवासी फतेह सिंह ने उनके पास एप्रोच किया और बताया कि कुछ बदमाश जो खुद को तहलका नाम के वेब चैनल का मालिक/साझेदार होने का ढोंग करते हैं, जबरन वसूली, ब्लैकमेलिंग और व्यवसायों और व्यक्तियों को मौद्रिक लाभ के लिए धमकाने जैसी अवैध गतिविधियों में शामिल हैं। इस स्व-घोषित चैनल के नुमाइंदे लोगों से पैसे ऐंठने के लिए अपनी स्थिति का फायदा उठा रहे हैं और मीडिया उद्योग की प्रतिष्ठा को नुकसान पहुंचा रहे हैं।एक अप्रिय घटना की एक विस्तृत शिकायत फतेह सिंह (कॉपी अटैच्ड ) द्वारा पहले ही वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक- एस एस पी, एस.ए.एस नगर को इस उम्मीद के साथ भेजी जा चुकी है कि ऐसे अपराधियों के खिलाफ जल्द से जल्द कार्रवाई की जाए और उन्हें मीडिया की आड़ में चौथे स्तम्भ को बदनाम करने के लिए ठोस सजा दी जानी चाहिए।

उन्होंने कहा इन सब घोषित वेब चैनलों द्वारा की जा रही ऐसी गतिविधियां न केवल व्यक्तियों और व्यवसायों को नुकसान पहुंचाती हैं बल्कि मीडिया उद्योग को भी बदनाम करती हैं, हम इन कार्रवाइयों की निंदा करते हैं और उन लोगों के साथ खड़े हैं जो ऐसे स्व-घोषित चैनलों के शिकार हुए हैं।हम नैतिक और जिम्मेदार पत्रकारिता में दृढ़ता से विश्वास करते हैं, और हम इन सिद्धांतों के खिलाफ जाने वाले किसी भी कार्य की निंदा करते हैं। हम जनता से आग्रह करते हैं कि ऐसी किसी भी गतिविधि की सूचना संबंधित अधिकारियों को दें। हम सभी मीडिया कंपनियों और हितधारकों से इस तरह की भ्रष्ट और अवैध गतिविधियों के खिलाफ लड़ाई में हाथ मिलाने का आह्वान करते हैं। एक साथ काम करके, हम यह सुनिश्चित कर सकते हैं कि मीडिया उद्योग अपनी सत्यनिष्ठा को बरकरार रखे। हम राज्य सरकार/प्रशासन से आग्रह करते हैं कि वे स्व-घोषित और नकली वेब चैनलों की अवैध प्रथाओं से निपटने के लिए कानून/विनियम लाएं।

ब्लैकमेलिंग के खिलाफ प्रेस कॉन्फ्रेंस करते जस्ट लॉ के संचालक एडवोकेट आर के सामयाल ने

Similar Posts

दिल्ली पुलिस के सिपाही से हथियार के बल पर गाङी लूटने वाला काबू                                                                                                                                                                                      लूटी गई गाङी भी आरोपी के कब्जा से बरामद की गई                                                                                                                                        01 आरोपी को 17. सितंबर.2023 को कसौला चौक, जिला रेवाङी से काबू किया                                                                                          आरोपी की पहचान महेश उर्फ मुन्डी निवासी गाँव शाहबाजपुर, रेवाङी के रुप में हुई

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *